महिला – स्तन (Female Breast)

स्तन(ब्रेस्ट)

स्तन कई आकार, माप व रंग के हो सकते हैं। स्तनों के निप्पल के आकार व रंग में भी काफ़ी अंतर हो सकता है।

स्तन मुख्यतः दूध का उत्पादन करने वाली ग्रन्थियों से मिलकर बने होते हैं जो एक नली द्वारा निप्पल से जुड़े होते हैं। यह ग्रन्थियाँ चारों ओर से चर्बीदार ऊतकों से घिरी होती हैं।

हर महीने हार्मोन स्तनों को गर्भावस्था के लिए तैयार करते हैं। इस कारण स्तन थोड़े बड़े और अधिक संवेदनशील हो जाते हैं और मासिक धर्म खत्म होने पर अपने स्वाभाविक आकार व माप पर वापस आ जाते हैं।

स्तनों का माप :

कुछ लड़कियाँ अपने स्तनों के माप से असंतुष्ट हो सकती हैं। कई बार वे चाहती हैं की उनके स्तनों का आकार बड़ा, छोटा या फि़र और कड़ा हो।

स्तनों के आकार व माप का उनकी संवेदनशीलता से कोई संबंध नहीं है – छोटे स्तन भी बड़े स्तनों जितने ही संवेदनशील हो सकते हैं। लड़कियों के स्तन – उनका आकार व माप – उनके गुणसूत्रों द्वारा निर्धारित होते हैं। आसपास की मांसपेशियों का भी स्तनों के आकार पर प्रभाव पड़ सकता है।

लड़कियाँ यह अनुभव कर सकती हैं की उनके स्तनों का आकार उनके वज़न के बढ़ने या घटने के अनुसार बढ़ या घट सकता है। स्तनों का माप महीने के अलग अलग समय पर अलग हो सकता है और यह हार्मोन युक्त गर्भनिरोधक (कॉन्ट्रासेप्टिव) से भी प्रभावित हो सकता है।